राशिफल

कन्या – Virgo

समय प्रतिकूल तथा कार्य क्षेत्र में व्यवधान उत्पन्न होने के योग होंगे। कोई नयी मशीनरी व वाहन आदि न खरीदें। भूमि-वाहन आदि से कष्ट व हानि से मानसिक व शारीरिक तनाव बढऩे की आशंका।

कन्या – Virgo

कन्या राशि वालों के लिए जुलाई माह का तृतीय सप्ताह अति शुभ फल देने वाला है। चन्द्रमा तृतीय भाव वृश्चिक राशि से षष्ठ भाव कुंभ राशि तक गोचर करेंगे। चन्द्रमा नीच राशि में होने के कारण सभी कार्य प्रयत्न करने से बनेंगे। भाइयों तथा साथियों के साथ विचारों में मतभेद बढ़ेंगे। इसलिए सचेत रहने की जरूरत है। अनावश्यक यात्रा करनी पड़ सकती है। ध्यान से यात्रा करें परेशानी बढ़ सकती है। 

16-19 जुलाई को चन्द्रमा धनु राशि चतुर्थ भाव से गोचर करेंगे। पीछे से चली आ रही परेशानियां बढ़ सकती हैं। आपके अपने लोग ही आपके साथ विश्वासघात कर सकते हैं। राजकीय कार्यों में भी रुकावटें व बाधा आयेंगी। वाद-विवाद से बचें। यदि जरूरी न हो तो यात्रा न करें। मकान, प्रोपर्टी व वाहन आदि में पूंजी निवेश न करें।  

20-21 जुलाई को चन्द्रमा मकर राशि पंचम भाव से गोचर करेंगे। युवाओं को कॅरियर संबंधी परेशानियों का निवारण होगा। इसलिए विद्यार्थी वर्ग को अपनी पढ़ाई में विशेष ध्यान देने की जरूरत है।  प्रतियोगिता परीक्षाओं में सफलता मिलेगी। संतान सुख में वृद्धि होगी। घर-परिवार में व्यस्तता बढ़ेगी। अचानक अतिथि आगमन हो सकता है। कार्यक्षेत्र की तरफ से मानसिक शांति रहेगी।

22-23 जुलाई को चन्द्रमा कुंभ राशि षष्ठ भाव से गोचर करेंगे। इसलिए समय मनोनुकूल है। आपकी मनोकामना पूर्ण होगी। रुका हुआ धन प्राप्त होगा जिस कारण आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। शत्रुपक्ष से सावधान नुकसान पहुंचाने की कोशिश करेंगे। स्वास्थ्य मध्यम रहेगा।

कन्या – Virgo

कन्या राशि वालों के लिए जुलाई माह का मासिक साप्ताहिक भविष्य

कन्या राशि वालों के लिए जुलाई माह के प्रारंभ में चन्द्रमा वृषभ राशि नवम में, सूर्य, बुध व शुक्र मिथुन राशि दशम भाव में, गुरु-राहु सिंह राशि द्वादश भाव में, मंगल तुला राशि द्वितीय भाव में, शनि वृश्चिक राशि तृतीय भाव में और केतु कुंभ राशि अष्टम भाव से गोचर कर रहे हैं।

1-7 जुलाई कन्या राशि वालों के लिए जुलाई माह का प्रथम सप्ताह अति उत्तम फल देने वाला है। चन्द्रमा नवम भाव से आय भाव तक गोचर करेंगे 1-2 जुलाई को चन्द्रमा नवम भाव वृषभ राशि से गोचर करेंगे। आप को जोखिम के कार्य में लाभ होने की संभावना है फिर भी आप सचेत होकर कोई कदम उठाएं। मित्रों व सहयोगियों का सहयोग प्राप्त होगा। अपने कार्य को पूरी निष्ठा और ईमानदारी से करें। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। धर्म में आस्था बढ़ेगी।

3-4 जुलाई को चन्द्रमा मिथुन राशि दशम भाव से गोचर करेंगे। समय मनोनुकूल है। आपकी रुचि सामाजिक व लोक कल्याण के कार्यों में ज्यादा रहेगी। आपके व्यवसाय से संबंधित कार्यक्षेत्र में कुछ परिवर्तन की संभावना है और लाभ प्राप्त होगा।  सरकारी अधिकारी गण के सहयोग से सरकारी कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। व्यवसाय से संबंधित यात्रा होगी और यात्रा से सफलता मिलेगी।

5 जुलाई दोपहर से समय उत्तम मनोनुकूल रहेगा। क्योंकि चन्द्रमा एकादश भाव से गोचर करेंगे।

6-7 जुलाई को चन्द्रमा कर्क राशि आय भाव से गोचर करेंगे। आप आयात-निर्यात के कार्यों में व्यस्त रहेंगे। नई योजनाओं को क्रियान्वित करने की कोशिश से सफलता प्राप्त हो सकती है। आय के नये साधन उपलब्ध हो सकते हैं। यात्रा लाभकारी रहेगी। परिवार के साथ घूमने-फिरने का प्रोग्राम बनेगा। अच्छा आनंद आयेगा। यात्रा सफल रहेगी। रुका हुआ धन प्राप्त होगा जिससे आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। नौकरी करने वालों को तरक्की का अवसर मिल सकता है। साथियों व अधिकारी वर्ग से अच्छा तालमेल रहेगा।

8-15 जुलाई कन्या राशि वालों के लिए जुलाई माह का द्वितीय सप्ताह उतार-चढ़ाव वाला है। चन्द्रमा द्वादश भाव से तृतीय भाव तक गोचर करेंगे। 8-9 जुलाई को चन्द्रमा सिंह राशि द्वादश भाव से गोचर कर रहे हैं। इस लिए समय मनोनुकूल नहीं है। आलस्य की स्थिति रहेगी। कार्यक्षेत्र में मन कम लगेगा। सहयोगियों से सहयोग में कमी रहेगी। इस कारण अनावश्यक खर्चों में वृद्धि होगी। यदि जरूरी न हो तो यात्रा न करें। वाहन ध्यान से चलाएं। गुड़ को रोटी पर रखकर गाय को खिलाएं। 

10-11 जुलाई को चन्द्रमा प्रथम भाव कन्या राशि से गोचर करेंगे। समय अनुकूल है। आप रचनात्मक कार्यों में व्यस्त रहेंगे। योजनावद्ध तरीके से किसी विशिष्ट कार्य को आप पूरा करेंगे। उसके फल मनोनुकूल मिलने की संभावना है। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।

12-14 जुलाई को चन्द्रमा तुला राशि द्वितीय भाव से गोचर करेंगे। आप के मन में नये कार्य को लेकर प्रेरणा जाग्रत होगी। लाभ की दिशा में नये-नये कार्यों को लेकर आपका मन हमेशा उत्साहित रहेगा। आर्थिक लाभ की दिशा में महत्वपूर्ण काम होंगे। जिस कारण आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। निजी कुटुम्ब का पूरा सहयोग प्राप्त होगा। अचानाक कोई यात्रा हो सकती है। आपकी सकारात्मक सोच ही सफलता दे सकती है।

15 जुलाई को चन्द्रमा वृश्चिक राशि तृतीय भाव से गोचर करेंगे। इसलिए समय उतार-चढ़ाव वाला रहेगा। अधिक प्रयत्न में कम सफलता प्राप्त होगी। भाई-बहनों के सहयोग में कमी रहेगी। अनावश्यक खर्चों में वृद्धि होगी। यात्रा में परेशानियां आ सकती हैं।


16-23 जुलाई कन्या राशि वालों के लिए जुलाई माह का तृतीय सप्ताह अति शुभ फल देने वाला है। चन्द्रमा तृतीय भाव वृश्चिक राशि से षष्ठ भाव कुंभ राशि तक गोचर करेंगे। चन्द्रमा नीच राशि में होने के कारण सभी कार्य प्रयत्न करने से बनेंगे। भाइयों तथा साथियों के साथ विचारों में मतभेद बढ़ेंगे। इसलिए सचेत रहने की जरूरत है। अनावश्यक यात्रा करनी पड़ सकती है। ध्यान से यात्रा करें परेशानी बढ़ सकती है। 

16-19 जुलाई को चन्द्रमा धनु राशि चतुर्थ भाव से गोचर करेंगे। पीछे से चली आ रही परेशानियां बढ़ सकती हैं। आपके अपने लोग ही आपके साथ विश्वासघात कर सकते हैं। राजकीय कार्यों में भी रुकावटें व बाधा आयेंगी। वाद-विवाद से बचें। यदि जरूरी न हो तो यात्रा न करें। मकान, प्रोपर्टी व वाहन आदि में पूंजी निवेश न करें। 

20-21 जुलाई को चन्द्रमा मकर राशि पंचम भाव से गोचर करेंगे। युवाओं को कॅरियर संबंधी परेशानियों का निवारण होगा। इसलिए विद्यार्थी वर्ग को अपनी पढ़ाई में विशेष ध्यान देने की जरूरत है।  प्रतियोगिता परीक्षाओं में सफलता मिलेगी। संतान सुख में वृद्धि होगी। घर-परिवार में व्यस्तता बढ़ेगी। अचानक अतिथि आगमन हो सकता है। कार्यक्षेत्र की तरफ से मानसिक शांति रहेगी।

22-23 जुलाई को चन्द्रमा कुंभ राशि षष्ठ भाव से गोचर करेंगे। इसलिए समय मनोनुकूल है। आपकी मनोकामना पूर्ण होगी। रुका हुआ धन प्राप्त होगा जिस कारण आर्थिक स्थिति मजबूत होगी। शत्रुपक्ष से सावधान नुकसान पहुंचाने की कोशिश करेंगे। स्वास्थ्य मध्यम रहेगा।  

24-31 जुलाई कन्या राशि वालों के लिए जुलाई माह का चतुर्थ सप्ताह उतार-चढ़ाव वाला रहेगा। चन्द्रमा सप्तम भाव से दशम भाव तक गोचर करेंगे।  24-25 जुलाई को चन्द्रमा सप्तम भाव मीन राशि से गोचर करेंगे। आपके दाम्पत्य सुख में वृद्धि होगी। आपसी तालमेल बढ़ेगा। वैचारिक मतभेद दूर होंगे। आपको साझेदारी में अच्छी सफलता प्राप्त होगी। आपका दबदबा बढ़ेगा। पूजा-पाठ व आराधना में संलिप्त रहेंगे। घर के बड़े बुजुर्गों का आशीर्वाद प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।

26-27 जुलाई को चन्द्रमा मेष राशि अष्टम भाव से गोचर करेंगे। 26 जुलाई को दोपहर से समय प्रतिकूल है इसलिए सचेत रहें। जमीन-जायदाद के क्रय-विक्रय से संबंधित कोई सौदा विवाद का कारण बन सकता है। कामकाज को गंभीरता से करें। यदि जरूरी न हो तो यात्रा न करें। वाद-विवाद से बचें। समय प्रतिकूल है इसलिए किसी भी नये कार्य में पूंजी निवेश न करें। वाहन ध्यान से चलाएं कोई अप्रिय घटना का संदेश प्राप्त हो सकता है। 28 जुलाई से समय धीरे-धीरे मनोनुकूल होगा।

28-30 जुलाई तक चन्द्रमा वृषभ राशि नवम भाव से गोचर करेंगे। धार्मिक गतिविधियों से आपकी परेशानी दूर हो सकती है। रुके हुए कार्यों में सफलता मिलने की पूरी संभावना है। नये साथियों से लाभ होगा। माता-पिता का पूरा सहयोग प्राप्त होगा। माता-पिता का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। आर्थिक मामलों में स्थायित्व आयेगा। 

31 जुलाई को चन्द्रमा मिथुन राशि दशम भाव से गोचर करेंगे। समय अनुकूल है। आपका उत्साह बढ़ेगा। आप उच्च अधिकारी व राजनेताओं के साथ व्यस्त रहेंगे। कार्यक्षेत्र में तरक्की होगी और आय के साधनों में उन्नति होगी।